कालमेघ के पत्ते हैं औषधीय गुणों का खजाना, क्लिक कर जानें

कालमेघ का पौधा बरसात के दिनों में उगता है। यह पौधा बहुत छोटा होता है। लेकिन इस पौधे के फूल, पत्तियां सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। कालमेघ के पत्ते छोटे होते हैं और इसका फूल हल्के नीले रंग का होता है। कालमेघ के पत्तों में खुशबूदार तेल निकलता है, जिसका इस्तेमाल बीमारियों को दूर करने में किया जाता है। आज हम आपको कालमेघ के कुछ औषधीय गुणों के बारे में बताने वाले हैं, जिसका इस्तेमाल आप अपने रोगों को दूर करने में कर सकते हैं।

https://www.dailynews24.in/2019/05/blog-post_23.html

कालमेघ के औषधीय गुण

अगर आपके शरीर पर कहीं चोट लग जाए या फोड़ा-फुंसी हो जाए तो आप कालमेघ से अपनी इस समस्या को दूर कर सकते हैं। आप कालमेघ के पत्तों को पानी में उबालें और इस पानी को छानकर घाव के ऊपर डालें। ऐसा करने पर घाव जल्दी भर जाता है।

जिन लोगों को एसिडिटी, गैस की समस्या है, उनके लिए भी कालमेघ के पत्ते फायदेमंद होते हैं। अगर आप कालमेघ के पत्तों का रस निकालकर पीते हैं तो आपको इस समस्या से छुटकारा मिल जाता है।
जिन लोगों को मलेरिया की बीमारी है, उनको कालमेघ और काली मिर्च को पानी में एक साथ मिलाकर खाना चाहिए। इससे आपकी मलेरिया की बीमारी दूर होती है।अगर आपका रक्त शुद्ध है तो आप कालमेघ के पत्तों का पानी में उबालें और पानी को छानकर पी लें। ऐसा करने से आप रक्त शुद्ध होता है।

छोटे बच्चों के पेट में कीड़े हो जाते हैं। इस समस्या को दूर करने के लिए आप कालमेघ के पत्तों का रस निकालकर उसमें कच्ची हल्दी और चीनी मिलाएं। इस मिश्रण को बच्चों को पिला दें। इससे कीड़े मर जाते हैं।
कालमेघ के पत्ते हैं औषधीय गुणों का खजाना, क्लिक कर जानें कालमेघ के पत्ते हैं औषधीय गुणों का खजाना, क्लिक कर जानें Reviewed by Praveen on May 23, 2019 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.