गणेश जी की वामवर्त सूंड वाली मूर्ति रखें घर में यहां पर, फिर देखें इसका चमत्कार

गणेश जी की वामवर्त सूंड वाली मूर्ति रखें घर में यहां पर, फिर देखें इसका चमत्कार
ganesh ji
जयपुर । घर में भगवान गणेश की प्रतिमा को रखना हिन्दू धर्म में शुभ माना जाता है ऐसे में लगभग सभी घरों में इनकी प्रतिमा होती है। इसके साथ ही शास्त्रों में इनको प्रथम पूज्य देव माना गया है, छोटे बडें किसी भी मांगलिक काम में इनकी पूजा सबसे पहले की जाती है। इसके साथ ही जब हम नए घर प्रवेश करते हैं व पूजा-पाठ करवाते है तो उस समय घर के मुख्‍य द्वार पर गणेशजी की मूर्ति को लगाया जाता है।
गणेश जी की तस्वीर या मूर्ति को घर में रख रहें हैं तो उनके साथ मोदक और उनका वाहन मूषक जरूर होना चाहिए इस बात का जरुर ध्यान रखें। इन दोनों के साथ भगवान गणेश जी की मूर्ति लें।लेकिन हम कभी कभी जानकारी के अभाव में गणेश जी की मूर्ती मुख्‍य द्वार लगा तो देते हैं लेकिन उसे कब लगाना शुभ रहता है इस बारे में जानकारी नहीं होती।
  • वास्‍तु में माना जाता है कि घर के मुख्‍य द्वार की दक्षिण या उत्‍तर दिशा में है तो ही मुख्‍य द्वार पर गणेशजी की मूर्ति लगाना शुभ रहता है।
  • वास्‍तु के अनुसार घर का मुख्‍य द्वार अगर पूर्व या पश्चिम दिशा में है तो ऐसी स्थिती में गणेशजी की मूर्ति मुख्‍य द्वार पर नहीं लगाएं।
गणेश जी की वामवर्त सूंड वाली मूर्ति रखें घर में यहां पर, फिर देखें इसका चमत्कार
  • जब भी गणेशजी की प्रतिमा घर में लाएं उस समय दें अगर मूर्ति घर के मेन दरवाजे पर लगाने के लिये ले रहें है तो उनकी सूंड़ वामवर्त होनी चाहिए और अगर घर के अंदर रखने के लिये मूर्ति ले रहें हैं तो सूंड़ दक्षिणावर्त होनी चाहिए।
  • घर में गणेश जी की मूर्ति हमेशा बैठी हुई मुद्रा में होनी चाहिए। तो दूसरी ओर ऑफिस में खड़ी गणेश जी की मूर्ति रखनी चाहिए।
गणेश जी की वामवर्त सूंड वाली मूर्ति रखें घर में यहां पर, फिर देखें इसका चमत्कार
  • अगर इष्‍ट देव गणेश जी हैं तो उनकी घर के मध्‍य में व ईशान कोण में भगवान विष्‍णु, अग्निकोण में शंकर और नैऋत्‍य कोण में भगवान सूर्य एवं वायुकोण में मां दुर्गा की स्‍थापना करें।
गणेश जी की वामवर्त सूंड वाली मूर्ति रखें घर में यहां पर, फिर देखें इसका चमत्कार गणेश जी की वामवर्त सूंड वाली मूर्ति रखें घर में यहां पर, फिर देखें इसका चमत्कार Reviewed by Praveen on May 22, 2019 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.