BARC का बड़ा फैसला, अगले 12 हफ्तों के लिए न्यूज चैनल की TRP पर प्रतिबंध, BARC का बड़ा फैसला, अगले 12 हफ्तों के लिए न्यूज चैनल की TRP पर प्रतिबंध

0



नई दिल्ली। मुंबई पुलिस ने हाल ही में खुलासा किया कि कुछ समाचार चैनल पैसे देकर अपनी रेटिंग बढ़ा रहे हैं। इसके बाद, ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल (BARC), जिसने टेलीविजन चैनलों (टीआरपी) की दर्शकों से संबंधित डेटा जारी किया, ने एक बड़ा फैसला लिया है। जिसके तहत अगले 12 हफ्तों के लिए टीआरपी पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।

टीआरपी रेटिंग BARC

वहीं, एनबीए के नियामक निकाय ने BARC के फैसले का स्वागत किया है। आपको बता दें कि कुछ दिनों पहले मुंबई पुलिस कमिश्नर ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में दावा किया था कि टीआरपी में घोटाला हो रहा है। कुछ चैनल किसी तरह से टीआरपी खींचने की कोशिश कर रहे थे। लेकिन अब BARC ने फैसला किया है कि TRP अगले तीन महीने तक रिलीज़ नहीं होगी।

BARC का कहना है कि फिलहाल तकनीकी समिति रेटिंग्स को मापने के तरीके की समीक्षा करेगी और फिर रेटिंग्स को सही किया जाएगा। BARC ने कहा है कि समीक्षा में 8-12 सप्ताह लगेंगे। समीक्षा के बाद, BARC फिर से टेलीविजन समाचार चैनलों की रेटिंग जारी करेगा।

टीआरपी रेटिंग

बता दें कि BARC ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल एक टेलीविजन रेटिंग एजेंसी है। यह दुनिया का सबसे बड़ा टेलीविजन माप निकाय है। BARC इंडिया की शुरुआत वर्ष 2010 में हुई थी। इसका मुख्य कार्यालय मुंबई में ही है।

यह भी पढ़े -  हाथरस डीएम ने सहमति के बिना रिश्तेदारों के अंतिम संस्कार के बारे में सच्चाई बताई, हाथरस डीएम ने विक्टिम के अंतिम संस्कार के बारे में बयान दिया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here