कोरोनावायरस संक्रमण का पता लगाने के लिए कोरोना टेस्टिंग में इजाफा किया जाएगा

दिल्ली में कोरोनावायरस संक्रमण का पता लगाने के लिए कोरोना टेस्टिंग में इजाफा किया जाएगा। इसके साथ ही कोरोना का उपचार कर रहे अस्पतालों में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। ये सीसीटीवी कैमरे कोरोना रोगियों के वार्ड में लगाए जाने हैं।

Advertisement
Advertisement

इसके अलावा विभिन्न अस्पतालों में शवों को सही तरह से रखने की क्षमता और सुविधा में भी इजाफा किया जाएगा। दिल्ली सरकार ने यह फैसला गृह मंत्रालय द्वारा जारी निर्देशों के उपरांत लिया है।

Coronavirus से निपटने के लिए गृहमंत्री अमित शाह की आज सर्वदलीय बैठक

रविवार को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की बैठक में तय हुआ है कि अब दिल्ली में रोजाना 10 हजार टेस्ट होंगे, जिसको छह दिन बाद बढ़ाकर 15 हजार किया जाएगा। इससे दिल्ली में कोरोना संक्रमण की सही स्थिति का आकलन हो सकेगा।

दिल्ली में कोरोना टेस्टिंग बढ़ाने के केंद्र सरकार के फैसले के बाद दिल्ली सरकार ने आदेश जारी करते हुए कहा, दिल्ली में सभी लैब अपनी पूरी क्षमता के साथ काम करें और अपनी टेस्टिंग कैपेसिटी को भी जल्द बढ़ाएं, जिससे डिमांड पूरी हो सके।

प्राइवेट लैब में अधिकतम कितने सैंपल टेस्ट के लिए भेजे जा सकते हैं, इसकी कोई सीमा नहीं है। लेकिन उनको 24-48 घंटों में नतीजे देने होंगे।

दिल्ली की विभिन्न लैबोरेटरी को सभी सैंपल लेते समय आईसीएमआर की गाइडलाइन्स का कड़ाई से पालन करना होगा। कोई भी सैंपल आईटी पीसीआर एप के बिना नहीं लिया जाएगा। दिल्ली में कोरोना सैंपल की जांच करने के लिए कुल 42 लैब हैं, जिसमें से 18 सरकारी और 24 प्राइवेट हैं।

गौरतलब है कि दिल्ली में अभी तक कुल 1327 लोग कोरोना वायरस से मर चुके हैं। यहां कोरोना रोगियों की कुल संख्या 41,182 हो गई है। बीते 24 घंटों के दौरान दिल्ली में 878 कोरोना रोगी स्वस्थ भी हुए हैं। अभी तक 15,823 कोरोना रोगी स्वस्थ हो चुके हैं। वहीं दिल्ली में अभी भी 24,032 एक्टिव कोरोना रोगी हैं। इनमें से 20,793 रोगियों को उनके घरों पर ही रहने को कहा गया है। दिल्ली सरकार के डॉक्टर फोन के जरिए इन रोगियों के संपर्क में हैं। दिल्ली में कोरोना हॉटस्पॉट्स की संख्या 222 है।

अगर हमारा पोस्ट आप लोगो को पसंद आया तो हमारे फेसबुक पेज को फॉलो और लाइक जरूर करे।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here