कोरोना संक्रमण के कारण बिहार में मंत्री कपिल देव कामत का निधन, पहले से ही किडनी की बीमारी से पीड़ित, बिहार सरकार के मंत्री कपिल देव केवट का निधन

0



नई दिल्ली। बिहार के मंत्री कपिल देव कामत का निधन हो गया है। कपिल देव कामत पहले से ही गुर्दे की बीमारी से पीड़ित थे। कपिल देव कामत को बीमार होने के कारण पटना के एम्स में भर्ती कराया गया था। हालांकि, पिछले दो दिनों से उनकी हालत बहुत खराब थी। उन्होंने देर रात पटना के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (पटना एम्स) में अंतिम सांस ली। उनकी मौत पर कई नेताओं और अन्य लोगों ने शोक व्यक्त किया है, जिसमें बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी शामिल हैं। बता दें कि कामत नीतीश सरकार में पंचायती राज मंत्री थे। कामत को पहले से ही किडनी की समस्या थी लेकिन कोरोना संक्रमण के कारण एक सप्ताह पहले पटना एम्स में भर्ती कराया गया था। उन्हें लगातार डायलिसिस भी हो रहा था। हालात बिगड़ने पर उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था। डॉक्टरों की टीम लगातार उन्हें देख रही थी, लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका।

कपिल देव कामत

अपने राजनीतिक जीवन के बारे में बात करते हुए, कामत पिछले 10 वर्षों में नीतीश सरकार में मंत्री थे। वह पिछले 40 वर्षों से सक्रिय राजनीति में थे, लेकिन पिछले कुछ दिनों से बीमार थे। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के करीबी माने जाने वाले कपिल देव कामत के स्वास्थ्य के मद्देनजर जदयू ने बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में मधुबनी सीट के लिए अपनी पुत्रवधू मीना कामत को उम्मीदवार बनाया है।

कामत की मौत पर सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि, कपिल देव कामत जमीन से जुड़े हुए नेता थे। मेरे मंत्रिमंडल में मेरे सहयोगी थे। वे एक कुशल प्रशासक और लोकप्रिय राजनीतिज्ञ थे। उनकी मौत ने मुझे व्यक्तिगत रूप से आहत किया है। उनके निधन से राजनीतिक और सामाजिक क्षेत्रों में अपूरणीय क्षति हुई है।

यह भी पढ़े -  इस तरह राजनीतिक वर्ग ने प्रतिक्रिया दी

कपिल देव कामत नितीश कुमार

वहीं, जदयू ने कामत की मौत पर शोक में पार्टी का झंडा झुका दिया है। गौरतलब है कि अभी कुछ दिनों पहले बिहार के मंत्री और प्राणपुर से बीजेपी विधायक विनोद सिंह की कोरोना से मौत हो गई थी।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here