Coronavirus-लॉकडाउन-मोदी-सरकारी संगठन द्वारा मेगा योजना के लिए प्रवासी-मजदूर रोजगार

केंद्र की मोदी सरकार उन प्रवासी श्रमिकों के लिए एक बड़ी योजना लेकर आई है, जो कोरोना में तालाबंदी के कारण अपनी आजीविका और नौकरी खो चुके हैं। केंद्र सरकार ने देश के छह राज्यों में 116 जिलों की पहचान की है, जिसमें ज्यादातर प्रवासी कामगार तालाबंदी के दौरान लौटते हैं। अब सरकार के पास इन प्रवासी कामगारों के लिए एक बड़ी योजना है। इसके तहत कोरोना लॉकडाउन के दौरान अपने राज्य और गांव में लौटे अरबों प्रवासी श्रमिकों के पुनर्वास और रोजगार के लिए एक पूर्ण रोडमैप तैयार किया गया है। अब सरकार इन 116 जिलों में केंद्र सरकार की सामाजिक कल्याण और मिशन मोड में प्रत्यक्ष लाभ योजनाओं को लागू कर रही है।

स्व-विश्वसनीय भारत अभियान के तहत जिलों पर ध्यान दें

इसका उद्देश्य आजीविका, रोजगार, कौशल विकास और गरीब प्रवासियों को वापस लौटने की सुविधा प्रदान करना है। ये जिले अन्य केंद्रीय योजनाओं जैसे मनरेगा, कौशल भारत, जनधन योजना, किसान कल्याण योजना, अन्ना सुरक्षा योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मिशन मोड में काम करेंगे। इसके अलावा, हाल ही में घोषित स्व-रिलायंस इंडिया अभियान इन जिलों पर ध्यान केंद्रित करेगा और अन्य केंद्रीय योजनाओं को एक निश्चित तरीके से लागू किया जाएगा। केंद्र सरकार के मंत्रालयों को भी इन जिलों पर ध्यान केंद्रित करने और दो सप्ताह के भीतर पीएमओ को प्रस्ताव भेजने के लिए कहा गया है।

केंद्र सरकार द्वारा चुने गए 116 जिलों में से, बिहार में सबसे अधिक 32 जिले हैं। इसके बाद उत्तर प्रदेश में 31 जिले हैं। मध्य प्रदेश के 24 जिले, राजस्थान के 22 जिले, झारखंड के 3 जिले और ओडिशा के 4 जिले हैं। कोरोना के कारण लॉकडाउन के दौरान, श्रमिकों को कई कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। तालाबंदी के दौरान रोजगार और व्यवसाय बंद होने से कर्मचारियों को आजीविका संकट का सामना करना पड़ रहा है।

इससे देश भर में मजदूरों का पलायन हुआ। यहाँ तक कि गाँव वापस जाने पर भी मज़दूरों को कई कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। इसे ध्यान में रखते हुए, केंद्र सरकार रिटर्निंग वर्कर्स को रोजगार प्रदान करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण कदम उठाएगी।

अगर हमारा पोस्ट आप लोगो को पसंद आया तो हमारे फेसबुक पेज को फॉलो और लाइक जरूर करे।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here