ऐसे लोगों को बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए लीची का सेवन, फायदे की जगह होगा भारी नुकसान

0
Advertisement

गर्मियों के मौसम में आम के साथ साथ लीची अधिक आने लगती हैं। लीची में विटामिन सी, विटामिन बी6, नियासिन, राइबोफ्लेविन, फोलेट, तांबा, पोटेशियम, फास्फोरस, मैग्निशियम और मैगनीज जैसे खनिज पाए जाते हैं। रोजाना लीची का सेवन करने से बढ़ती उम्र के लक्षण कम नजर आते हैं। हालांकि लीची खाने के अधिक नुकसान भी होते हैं। इसके कारण आपको एलर्जी के साथ कई समस्याओं का सामना कतरना पड़ सकता है।

एलर्जी

लीची उन लोगों में एलर्जी का कारण बन सकती है जिन्हें बर्च, सूरजमुखी के बीज और एक ही परिवार के अन्य पौधों, मगवॉर्ट और लेटेक्स से एलर्जी है।

और पढ़े  घर पर ही ऐसे करें असली और नकली milk की पहचान

गर्भावस्था और स्तनपान
गर्भवती या स्तनपान कराने के दौरान लीची का उपयोग करना सुरक्षित है या नहीं। इस बात पर रिसर्च चल रही हैं। लेकिन खुद को सुरक्षित रखने के लिए लीची का सेवन ना करें।

लो ब्लड प्रेशर
लीची खाने से हाइपरटेंशन, तनाव, सांस की समस्या सब दूर होती है। लेकिन यही अगर ज्यादा मात्रा में खा लिया जाए तो इससे शरीर में ब्लड प्रेशर कम हो सकता है। जिसके कारण सुस्ती, बेहोशीपन, थकान की समस्या हो जाती है।

डायबिटीज
लीची का अर्क ब्लड शुगर के स्तर को कम कर सकता है। यदि आपको डायबिटीज है और लीची खा रहे हैं तो लगातार ब्लड शुगर मॉनिटर करते रहे।

और पढ़े  इस व्यक्ति ने सच कर दी 'आम के आम गुठलियों के दाम' की कहावत, जानिए कैसे...?

सर्जरी
लीची ब्लड शुगर के स्तर को कम कर सकता है। इसलिए यह सर्जरी के दौरान और बाद में ब्लड शुगर को कंट्रोल करने में समस्या कर सकता है। इसलिए सर्जरी से कम से कम 2 सप्ताह पहले लीची का सेवन ना करे।


Advertisement
Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here