सूर्य ग्रहण हो या चंद्र ग्रहण दोनों का ही ज्योतिष शास्त्र में एक खास प्रकार का महत्व माना गया

सूर्य ग्रहण हो या चंद्र ग्रहण दोनों का ही ज्योतिष शास्त्र में एक खास प्रकार का महत्व माना गया है। 5 जून को ज्येष्ठ पूर्णिमा के दिन चंद्र ग्रहण (Lunar Eclipse) लगने जा रहा है। साल 2020 के मध्य में लगने वाला इस चंद्र ग्रहण की अवधि 3 घंटे और 18 मिनट है। भारतीय मानक समय के अनुसार चंद्र ग्रहण आज यानी 5 जून की रात को 11 बजकर 15 मिनट पर आरंभ होगा और 2 बजकर 32 मिनट पर खत्म हो जाएगा।

Advertisement
Advertisement

इस चंद्र ग्रहण की सबसे खास बात यह है कि, यह भारत में दिखाई तो देगा परन्तु इस चंद्र ग्रहण में सूतक से जुड़े कोई भी नियम नहीं माने जाएंगे। ऐसा इसलिए क्योंकि आज का यह ग्रहण उपच्छाया चंद्र ग्रहण होगा। जिसका अर्थ है कि चंद्रमा पर केवल एक धुंधली सी छाया पड़ेगी। बता दें कि, साल 2020 के इस दूसरे चंद्र ग्रहण को भारत समेत ऑस्ट्रेलिया, एशिया, अफ्रीका और यूरोप, के लोग भी देख पाएंगे।

ज्योतिष शास्त्रों के अनुसार, इस चंद्र ग्रहण (Lunar Eclipse) में सूतक से जुड़े सभी नियमों का पालन नहीं करना पड़ेगा लेकिन आपको बता दें कि, चंद्र ग्रहण को लेकर हिंदू धर्म में कुछ खास प्रकार के नियम बताए गए हैं। आइए जानते हैं क्या हैं वो खास नियम-

चंद्र ग्रहण लगने का समय-
5 जून की रात को 11 बजकर 15 मिनट पर आरंभ होगा और 6 जून की सुबह 2 बजकर 32 मिनट पर खत्म हो जाएगा।

चंद्र ग्रहण (Lunar Eclipse) के समय जरुर ध्यान रखें ये खास बातें-
1. चंद्र ग्रहण के समय किसी भी तरह का कोई शुभ काम न करें।
2. चंद्र ग्रहण के दौरान ज्यादा से ज्यादा समय तक मंत्रों का जाप करें।
3. मंत्रों का जाप कर भगवान को स्मरण करना है और चंद्र ग्रहण समाप्ति के बाद स्नान कर पूरे घर में गंगा जल का छिड़काव करें।
4. ग्रहण के समय किसी भी तरह का हथियार जैसे तलवार, कैंची, चाकू अपने करीब न रखें।
5. चंद्र ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाओं (pregnant women) को घर से बाहर ना जाने की सलाह दी जाती है।

चंद्र ग्रहण (Lunar Eclipse) के दौरान न करें ये काम-

– ग्रहण के समय भोजन नहीं करना चाहिए।
– चंद्र ग्रहण को नंगी आंखों से न देखें
– ग्रहण के समय गर्भवती स्त्रियों (pregnant women) को खास ध्यान रखने की जरूरत है।

अगर हमारा पोस्ट आप लोगो को पसंद आया तो हमारे फेसबुक पेज को फॉलो और लाइक जरूर करे।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here