इन आसान टिप्स एंड ट्रिक्स की मदद से होली के पक्के रंग को कहें गुडबाय!

0
Advertisement

होली खेलने में तो नो डाउट बहुत मजा आता है लेकिन जब बात रंग छुड़ाने की आती है तो बहुत टेंशन हो जाती है। लगता है ऐसा कोई क्रीम या साबुन होता जिसे लगाते ही कलर उतर जाता तो कितना अच्छा होता। तो आज हम आपको ऐसे ही कुछ उबटन, स्क्रब के बारे में बताएंगे, जिससे आप बेफ्रिक होकर होली फेस्टिवल को एंजॉय कर सकें।

Advertisement

1. सूखे हो या गीले रंग, इन्हें उतारने के लिए गरम पानी का इस्तेमाल बिल्कुल न करें। इससे रंग और ज्यादा पक्के हो जाते हैं। बेहतर होगा कि रंग हटाने के लिए ठंडे पानी का यूज करें।

. रंग हटाने के लिए शहद, पपीता और मुल्तानी मिट्टी मिलाकर पैक तैयार करें और इसे चेहरे, हाथ, पैर जहां-जहां रंग लगा है वहां लगाएं। बचे हुए पैक को आप स्टोर भी कर सकती हैं क्योंकि इसकी और जरूरत पड़ सकती है।

और पढ़े  हिना खान की पोल्का डॉट बिकिनी की कीमत में हो सकती है वीकेंड ट्रिप!

. होली के रंग छुड़ाने के लिए आप शहद और नींबू के रस की बराबर मात्रा लेकर उसे मिक्स करें और चेहरे पर अच्छी तरह से लगाएं। 15-20 बाद नॉर्मल पानी से धो लें।

. नहाने से पहले आटा, ऑलिव ऑयल और नींबू के रस को मिक्स कर पैक तैयार करें और हल्के हाथों से सर्कुलर मोशन में पूरी बॉ़डी पर लगाएं। हल्का सूखने के बाद शॉवर ले लें।

. होली के जिद्दी रंगों को हटाने में बेसन, दही, हल्दी, नींबू और ऑलिव ऑयल से तैयार स्क्रबिंग भी है बेहद फायदेमंद। इसे आप नहाने से पहले कुछ देर तक लगाकर रखें या फिर साबुन लगाने के बाद इस पेस्ट से बॉडी की स्क्रबिंग करें। दोनों ही तरीकों से इसका असर देखने को मिलेगा।

और पढ़े  skin care tips: आपकी त्वचा के लिए चावल का पानी किस तरह है फायदेमंद जानिए

. बालों में लगे कलर को हटाने के लिए तुरंत शैंपू न करें बल्कि इसकी जगह पहले अंडे को कम से कम 30 मिनट तक सिर पर लगाकर रखें। अंडा नहीं या है यूज़ नहीं करना चाहते तो मेथी पाउडर और दही का मिक्सचर भी लगा सकते हैं। इसके अलावा सरसों का तेल भी बालों के लिए हर तरह से फायदेमंद है।

. सेंसिटिव और एक्ने वाली स्किन वालों को कलर हटाने के बाद खास तरह के देखभाल की जरूरत होती है। किसी अच्छे एंटीसेप्टिक क्रीम से चेहरे की मसाज करें। इससे जलन और रैशेज से राहत मिलेगी।

. नारियल तेल भी बहुत ही अच्छा कलर रिमूवर और मॉइश्चराइजर होता है। तो होली के रंग लगाने से पहले भी इसे स्किन पर अच्छी तरह से लगा लें और रंग छुडा़ने के बाद भी कॉटन की मदद से इसे चेहरे से लेकर हाथ-पैरों पर लगा लें। इससे खुजली, जलन, रैशेज से राहत मिलती है।

और पढ़े  राहुकाल को क्यों माना गया है अशुभ मुहूर्त? जानिए हर दिन का राहुकाल का समय

. नारियल तेल, ऑलिव ऑयल या सरसों के तेल में से किसी को भी आप होली खेलने से पहले पूरी बॉडी और चेहरे पर लगा सकते हैं।

Advertisement
Advertisement
Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here