Holi 2021 : घर पर इस तरह बनाएं हर्बल गुलाल, चेहरे पर नहीं होगा कोई साइड इफेक्ट

0
Advertisement

होली रंगों का त्योहार है। घरों में होली की तैयारी शुरू हो गई है। बाजार में विभिन्न रासायनिक डाई उपलब्ध हैं जो त्वचा पर मुँहासे, दाने और चकत्ते पैदा कर सकते हैं। इन रंगों को लगाने से चेहरे पर एलर्जी हो जाती है। हर्बल रंग उनके लिए बेहद फायदेमंद है। इन रंगों के इस्तेमाल से आपकी त्वचा और बाल सुरक्षित रहते हैं। यह आसानी से राख हो गया। कोरोना को अपने दोस्तों, परिवार और खुद को कई बार बचाने की जरूरत है। हर्बल रंग त्वचा के लिए 100% फायदेमंद होते हैं।

इससे आपको जलन, एलर्जी जैसी समस्याएं नहीं होती हैं। हर्बल रंजक तांबा, सल्फेट, ऑक्साइड जैसे रसायनों से मुक्त होते हैं। ये रंग आपके बालों से आसानी से निकल भी जाते हैं। साथ ही आप चाहें तो इसे आसानी से घर पर बना सकते हैं। आइए जानते हैं घर पर रंग बनाने के तरीके। लाल गुलाल बनाने के लिए, चंदन पाउडर और आटे को कुमकुम में मिलाएं और गुलाल तैयार करें। त्वचा की सुरक्षा के लिए आप लाल कुमकुम चुन सकते हैं।

और पढ़े  SUMMER TIPS: नारियल पानी है इस बीमारी के लिए रामबाण इलाज, जाने फायदे

रंग पर भारी महामारी, दिल्ली-मुंबई के बाद अब हरियाणा में भी होली पर रोक |  Zee Business Hindi

इसमें मौजूद चंदन आपकी त्वचा को मुलायम और कोमल बनाए रखता है। पीला गुलाल बनाने के लिए, एक कटोरी में हल्दी लें और बेसन मिलाएं। यह रंग आपकी त्वचा की चमक को बढ़ाता है। आप इसके बजाय गेंदे के फूल का उपयोग कर सकते हैं। गीले पीले रंग को बनाने के लिए हल्दी को पानी में भिगोएँ। हल्दी में एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं जो त्वचा को स्वस्थ रखने में मदद करता है। हरा रंग बनाने के लिए, आप 2 से 3 दिनों के लिए पालक, मेथी या पुदीने की पत्तियों को सुखा सकते हैं, फिर इसे पेस्ट बनाने के लिए मिक्सर में पीस लें। अगर आप गीला हरा रंग बनाना चाहते हैं, तो हरी सब्जियों को उबालकर उनका पेस्ट बना लें। मेथी आपकी त्वचा की समस्या को दूर रखती है।

और पढ़े  जेसीबी (JCB) की फुल फॉर्म जानकर रह जाएंगे हैरान

Advertisement
Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here