Holi 2021 : कहीं आप तो नहीं खा रहे नकली मावे से बनी गुजिया, इस तरह करें पहचान

0
Advertisement

होली पर्व की उल्टी गिनती शुरू हो गई है। त्योहार का समय मिठाइयों के बिना अधूरा लगता है। होली के अवसर पर ज्यादातर घरों में गुजिया बनाई जाती है। गुजिया घरों में कुछ दिन पहले बनाई जाती है जो होली के दिन रिश्तेदारों और दोस्तों में भी बांटी जाती है। दूसरी ओर, कुछ लोग बाहर से गुजिया और मिठाई खरीदते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि जो मावा आप खरीद रहे हैं वो शुद्ध है या नहीं? ये मावा आपके स्वास्थ्य के लिए कितना हानिकारक हो सकता है।

अगर आप भी नकली और शुद्ध मावा की पहचान करने के लिए चिंतित हैं तो हम आपको कुछ टिप्स बता रहे हैं जिनके इस्तेमाल से आप आसानी से नकली मावा की पहचान कर सकते हैं। आइए बिना देर किए जानते हैं उन टिप्स के बारे में। कुछ देर के लिए हाथ पर खों को रगड़ें। अगर इसमें मौजूद घी की सुगंध लंबे समय से आपके हाथों से आ रही है, तो समझ लें कि आपके नट्स बहुत शुद्ध हैं। इसे खरीदने से पहले अपने हाथ की हथेली पर एक गोली बनाएं।

और पढ़े  Summer Drinks: गर्मियों में स्वाद ही नहीं सेहत का भी रखता है ख्याल आम पन्ना, नोट करें ये टेस्टी Recipe

मावा

यदि यह विस्फोट करना शुरू कर देता है, तो समझें कि यह मिलावटी है। आप 5 ग्राम गर्म पानी में 3 ग्राम खोआ डालें। थोड़ी देर ठंडा होने दें और फिर आयोडीन घोल डालें। यदि मावा का रंग नीला हो जाता है तो वह मिलावटी है। आप इसे खाकर भी मावा को पहचान सकते हैं। नकली मावा खाने में चिपचिपा होता है। अगर आप असली मावा खाते हैं, तो इसका स्वाद कच्चे दूध की तरह होता है। अगर पानी में डालने के बाद मावा टूटने लगे तो समझ लीजिए कि वह खराब हो गया है। नकली मावा खाने से पेट की समस्या हो सकती है। इसके अलावा उल्टी, फूड पॉइजनिंग भी हो सकती है। इसके अलावा यह आपके गुर्दे और यकृत पर बुरा प्रभाव डाल सकता है।

और पढ़े  यह है सोने से बना दुनिया का पहला होटल, एक रात का किराया जानकर उड़ जाएंगे होश

Advertisement
Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here