जानिए क्यों कम उम्र पर सफेद हो जाते हैं बाल, ये उपाय दूर करेंगे व्हाइट हेयर की समस्या

0
Advertisement

एक समय था जब भूरे बाल उम्र के साथ जुड़े थे, लेकिन आजकल यह एक आम समस्या है। अब कम उम्र में ही लोगों के बाल सफेद होने लगे हैं। कम उम्र में भी बच्चों के बाल सफेद हो जाते हैं। विशेषज्ञों के अनुसार, यह सब मेलेनिन के कारण होता है। मेलानिन पिगमेंट हमारी बालों की जड़ों की कोशिकाओं में पाया जाता है और यही हमारे बालों को काला बनाने का काम करता है।

White hair problem: एक बार सफेद होने के बाद क्या फिर से काले हो सकते हैं  बाल? - can grey hair turn back to black colour is it possible | Navbharat  Times

जब मेलेनिन का उत्पादन कम हो जाता है, तो बाल सफेद होने लगते हैं। लेकिन अब सवाल उठता है कि मेलेनिन का निर्माण कम क्यों होता है? आइए जानते हैं इसके बारे में और इस समस्या को नियंत्रित करने के उपाय। विशेषज्ञों के अनुसार, मेलेनिन का कम होना या उम्र के साथ कम होना सामान्य है। लेकिन अगर यह कम उम्र में हो रहा है तो इसका मुख्य कारण आपकी जीवनशैली और खानपान है। आजकल लोगों में विटामिन बी 12 की कमी अधिक पाई जाती है। शाकाहारी खाद्य पदार्थों में विटामिन बी 12 नहीं पाया जा सकता है, इसलिए पूरक आहार की आवश्यकता होती है।

और पढ़े  मसालेदार भोजन से सिर्फ नुकसान ही नहीं, इन फायदों को जानकर हो जाएंगे हैरान

इसकी कमी के कारण कम उम्र में ही बाल सफेद होने लगते हैं। दूसरी ओर, आजकल खराब जीवनशैली के कारण थायराइड की समस्या बहुत आम है। थायरॉयड ग्रंथि टी 3, टी 4 थायरोक्सिन हार्मोन का उत्पादन करती है। लेकिन जब थायरॉयड की समस्या होती है, तो इन हार्मोनों में असंतुलन होता है। इसका सीधा प्रभाव मस्तिष्क और बालों पर पड़ता है। इससे बाल समय से पहले सफेद या भंगुर हो जाते हैं।


Advertisement
Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here