Walking Rules : सही तरीके से नहीं करते हैं वॉक तो नहीं होगा कोई फायदा

0
Advertisement

चलना शरीर की एक बुनियादी गतिविधि है। इसके कई स्वास्थ्य लाभ हैं। रोजाना कुछ कदम चलने से वजन नियंत्रण में मदद मिलती है और मूड में सुधार होता है। इसके अलावा, चलना मधुमेह, हृदय की समस्याओं, बीपी को नियंत्रित करता है, साथ ही मांसपेशियों और हड्डियों को मजबूत करता है। वैसे तो हर किसी के चलने का अपना तरीका होता है, लेकिन स्वस्थ चलने के लिए कुछ नियमों को जानना जरूरी है, वरना कई तरह की समस्याएं हो सकती हैं। चलने का सही तरीका जानें। चलते समय शरीर की मुद्रा पर विशेष ध्यान देना महत्वपूर्ण है।

इस मामले में शरीर को एक सीधी लेकिन आरामदायक स्थिति में रखा जाना चाहिए। कंधे झुके हुए नहीं होने चाहिए। आपके शरीर का आधार आपके पैर हैं, इसलिए चलते समय इस बात का ध्यान रखें कि साइड से देखने पर आपकी टखने आपके घुटनों के अनुरूप हों और आपके कूल्हे आपके घुटनों के अनुरूप हों। गर्दन सीधी और एक सामान्य स्थिति में होनी चाहिए। कंधे पीछे की ओर होने चाहिए लेकिन आरामदायक स्थिति में।ृ स्वस्थ चलने के दौरान पैरों की सभी मांसपेशियों का उपयोग किया जाता है। इस मामले में, जब भी आप एक कदम उठाते हैं, तो सामने वाले पैर की एड़ी को पहले रखें और पूरे पैर को जमीन पर रखें।

और पढ़े  घर पर मौजूद ये चीजें तुरंत हटा दें, नहीं तो मां लक्ष्मी कर देंगी आपका त्याग

चलते समय अपनी कोहनी को अपने शरीर के पास रखते हुए अपनी बाहों को झुलाते रहें। इससे आपके कंधे और पीठ की मांसपेशियों में खिंचाव और मजबूती आएगी। वॉक करते समय हमेशा अपने सिर और ठुड्डी को थोड़ा ऊंचा रखें और आगे की ओर मुंह करके चलें। यह चलते समय आपके शरीर को संतुलित रखता है। शुरू में वार्मअप के लिए सामान्य गति से चलें और सामान्य रूप से सांस लें।

10 से 15 मिनट गर्म होने के बाद, अपनी चलने की गति बढ़ाएं और कुछ समय के लिए उच्च तीव्रता की गति बनाए रखें। तेज गति के दौरान लंबे कदम उठाने से बचें। दैनिक अभ्यास करके 30 मिनट के लिए उच्च गति बनाए रखने की कोशिश करें। हालांकि, जल्दबाजी की कोई जरूरत नहीं है। दैनिक रूप से समय बढ़ाकर, आप धीरे-धीरे गति को आसानी से बनाए रखना शुरू कर देंगे। फिर सामान्य वार्मअप गति पर लौटें। लगभग 10 से 15 मिनट तक वार्मअप की गति से चलें। यदि आप चलना जारी रखना चाहते हैं तो इस क्रम को दोहराएं। यदि नहीं, तो बैठ जाओ और थोड़ी देर के लिए आराम करो।

और पढ़े  हवाई जहाज के दोनों पायलटों को क्यों दिया जाता है अलग-अलग खाना, जानिए

Advertisement
Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here