ऑस्ट्रेलिया के तेज़ गेंदबाज़ मिशेल स्टार्क ने दावा किया

ऑस्ट्रेलिया के तेज़ गेंदबाज़ मिशेल स्टार्क ने दावा किया है कि वो 15 लाख 30 हजार डॉलर यानि की 11.7 करो़ड़ रुपये की बीमा राशि के हकदार हैं। 2018 में कोलकाता नाइडराइडर्स की ओर से आईपीएल नहीं खेल पाए थे, क्योंकि स्टार्क चोटिल हो गए थे। इसी वजह से स्टार्क ने अब केकेआर को 2018 में अपने चोटिल होने का वीडियो भेजा है। इसी के साथ उन्होंने अब बीमा में मिलने वाले लगभग 12 करोड़ रुपये पर दावा ठोका है।

Advertisement
Advertisement

मिशेल स्टार्क 2018 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच में चोटिल हो गए थे और इस चोट की वजह से वो आईपीएल भी नहीं खेल सके थे। चोट को साबित करने के लिए स्टार्क ने वीडियो फुटेज सौंपी है। उन्होंने ऐसा इसलिए किया है ताकी वो ये साबित कर सके कि वो चोट की वजह से आईपीएल नहीं खेले थे और वो बीमा की 11.7 करो़ड़ रुपये रकम पाने के हकदार हैं।

स्टार्क ने बीमा कंपनी के खिलाफ पिछले साल अप्रैल में मामला दर्ज कराया था। बीमाकर्ता ने हालांकि इस बात का विरोध किया था कि चोट पोर्ट एलिजाबेथ में दूसरे टेस्ट के दौरान लगी। इस मामले की सुनवाई 12 अगस्त से होगी। दोनों पक्षों के बीच पिछले महीने मध्यस्थता की कोशिशें नाकाम हो गई जब स्टार्क के मैनेजर एंड्रयू फ्रेजर ने फॉक्स स्पो‌र्ट्स की वीडियो फुटेज मुहैया कराई, जिसमें वो दूसरे टेस्ट के दौरान गेंदबाजी कर रहा था।

आइपीएल 2018 से पहले स्टार्क को केकेआर ने अपनी टीम में शामिल किया था।स्टार्क की कानूनी टीम ने कहा है कि बीमा कंपनी के पास मामले की समीक्षा करने और फुटेज की मांग करने के लिए 13 महीने का समय था। स्टार्क को ये साबित करना होगा कि उन्हें ज्ञात स्थान और समय पर एकमात्र और अचानक चोट लगी।

स्टार्क सीरीज का तीसरा टेस्ट खेले थे। दोनों पक्षों ने अपना पक्ष रखते हुए मेडिकल रिपोर्ट सौंपी हैं। स्टार्क का इलाज करने वाले डॉक्टर ने कहा कि स्टार्क की चोट गहरी थी। वहीं, बीमा कंपनी के डॉक्टर ने दलील दी कि 10 मार्च, 2018 को स्टार्क को चोट नहीं लगी थी।

नवीनतम अपडेट प्राप्त करने के लिए DailyNews24 एंड्रॉइड ऐप भी डाउनलोड करें। अगर हमारा पोस्ट आप लोगो को पसंद आया तो हमारे फेसबुक पेज को फॉलो और लाइक जरूर करे।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here