भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ के बारे में क्या कहा

टीम इंडिया के पूर्व ओपनर और बेहतरीन बल्लेबाज रहे गौतम गंभीर ने भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ के बारे में कहा कि उनकी उपेक्षा हुई है। गौतम गंभीर ने कहा कि भारतीय क्रिकेट में राहुल का योगदान मास्टर ब्लास्टर कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर से कुछ कम नहीं है, लेकिन उन्हें ज्यादा क्रेडिट नहीं मिला। इसके अलावा, राहुल के खेल से जुड़ी कई बातें गौतम गंभीर ने बताईं। उन्होंने राहुल को एक महान खिलाड़ी और कप्तान कहा।

सिर्फ धोनी और कोहली की चर्चा
गौतम गंभीर ने स्टार स्पोर्ट्स के प्रोग्राम ‘क्रिकेट कनेक्टेड’ में यह बात कही। उन्होंने कहा कि राहुल द्रविड़ एक बेहतरीन प्लेयर होने के साथ ही अच्छे कप्तान भी रहे, लेकिन आज सिर्फ सौरव गांगुली और एमएस धोनी की ही चर्चा होती रही। अब विराट कोहली की सबसे ज्यादा चर्चा होती है। राहुल द्रविड़ की कोई चर्चा नहीं करता, जबकि वे शानदार कप्तान रहे हैं।

<p><strong>राहुल को कमतर आंका गया</strong><br />
स्टार स्पोर्ट्स के प्रोग्राम में गंभीर ने कहा कि राहुल द्रविड़ के रिकॉर्ड्स बेहद शानदार रहे हैं, लेकिन एक क्रिकेटर के तौर पर उनके कॉन्ट्रिब्यूशन को कम कर के आंका गया। कप्तान के तौर पर भी उन्हें ज्यादा महत्व नहीं दिया गया।&nbsp;</p>

राहुल को कमतर आंका गया
स्टार स्पोर्ट्स के प्रोग्राम में गंभीर ने कहा कि राहुल द्रविड़ के रिकॉर्ड्स बेहद शानदार रहे हैं, लेकिन एक क्रिकेटर के तौर पर उनके कॉन्ट्रिब्यूशन को कम कर के आंका गया। कप्तान के तौर पर भी उन्हें ज्यादा महत्व नहीं दिया गया।

<p><strong>सफल कप्तान रहे द्रविड़</strong><br />
गौतम गंभीर ने कहा कि राहुल द्रविड़ एक सफल कप्तान रहे हैं। कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि राहुल द्रविड़ की कप्तानी में भारत ने इंग्लैंड और वेस्टइंडीज में जीत हासिल की। गंभीर ने कहा कि राहुल की कप्तानी में 14-15 मैचों में भारत को जीत मिली, लेकिन इसके लिए उनकी कोई खास चर्चा नहीं हुई।</p>

सफल कप्तान रहे द्रविड़
गौतम गंभीर ने कहा कि राहुल द्रविड़ एक सफल कप्तान रहे हैं। कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि राहुल द्रविड़ की कप्तानी में भारत ने इंग्लैंड और वेस्टइंडीज में जीत हासिल की। गंभीर ने कहा कि राहुल की कप्तानी में 14-15 मैचों में भारत को जीत मिली, लेकिन इसके लिए उनकी कोई खास चर्चा नहीं हुई।

<p><strong>सचिन और गांगुली से कम नहीं</strong><br />
2007 में हुए टी20 वर्ल्ड कप और 2011 में वर्ल्ड कप जीतने वाली टीम में शामिल रहे गौतम गंभीर ने कहा कि भारतीय क्रिकेट पर द्रविड़ का प्रभाव सचिन तेंदुलकर और सौरव गांगुली से ज्यादा है, लेकिन ऐसी लोकप्रियता हासिल नहीं हो सकी, जिसके पीछे कुछ खास कारण हैं।&nbsp;</p>

सचिन और गांगुली से कम नहीं
2007 में हुए टी20 वर्ल्ड कप और 2011 में वर्ल्ड कप जीतने वाली टीम में शामिल रहे गौतम गंभीर ने कहा कि भारतीय क्रिकेट पर द्रविड़ का प्रभाव सचिन तेंदुलकर और सौरव गांगुली से ज्यादा है, लेकिन ऐसी लोकप्रियता हासिल नहीं हो सकी, जिसके पीछे कुछ खास कारण हैं।

<p><strong>द्रविड़ का प्रभाव ज्यादा</strong><br />
गौतम गंभीर ने कहा कि भारतीय क्रिकेटरों में राहुल द्रविड़ किसी से कम नहीं रहे। उन्होंने कहा, "मेरा मानना हा कि द्रविड़ का प्रभाव बहुत ज्यादा रहा है। सौरव गांगुली ने अपनी आक्रामक पारी से वनडे क्रिकेट में कामयाबी हसिल की और काफी असर डाला, लेकिन भारतीय क्रिकेट में राहुल का प्रभाव किसी से भी कम नहीं है।"&nbsp;<br />
&nbsp;</p>

द्रविड़ का प्रभाव ज्यादा
गौतम गंभीर ने कहा कि भारतीय क्रिकेटरों में राहुल द्रविड़ किसी से कम नहीं रहे। उन्होंने कहा, “मेरा मानना हा कि द्रविड़ का प्रभाव बहुत ज्यादा रहा है। सौरव गांगुली ने अपनी आक्रामक पारी से वनडे क्रिकेट में कामयाबी हसिल की और काफी असर डाला, लेकिन भारतीय क्रिकेट में राहुल का प्रभाव किसी से भी कम नहीं है।”

<p><strong>हर रोल में फिट रहे राहुल</strong><br />
गौतम गंभीर ने कहा कि एक क्रिकेटर के तौर पर राहुल हर रोल में फिट रहे। उनसे जो करने के लिए कहा गया, उन्होंने किया। ओपनर से लेकर तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने के साथ जब उन्हें विकेटकीपिंग के लिए कहा गया तो उन्होंने वह भी किया। जब उन्हें फिनिशर के तौर पर खेलने के लिए कहा गया तो वह रोल भी निभाया। उन्हें जो भी जिम्मेदारी दी गई, उन्होंने बेहतर तरीके से निभाई।</p>

हर रोल में फिट रहे राहुल
गौतम गंभीर ने कहा कि एक क्रिकेटर के तौर पर राहुल हर रोल में फिट रहे। उनसे जो करने के लिए कहा गया, उन्होंने किया। ओपनर से लेकर तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने के साथ जब उन्हें विकेटकीपिंग के लिए कहा गया तो उन्होंने वह भी किया। जब उन्हें फिनिशर के तौर पर खेलने के लिए कहा गया तो वह रोल भी निभाया। उन्हें जो भी जिम्मेदारी दी गई, उन्होंने बेहतर तरीके से निभाई।

<p><strong>परफेक्ट रोल मॉडल बताया</strong><br />
गौतम गंभीर ने राहुल द्रविड़ को एक सफल कप्तान के साथ क्रिकेट के हर फन में उन्हें माहिर बताया। गंभीर ने कहा कि वे खेल में हर भूमिका को निभा सकते थे और ऐसा उन्होंने कर के दिखाया। उनसे बहुत कुछ सीखा जा सकता है। वे एक परफेक्ट रोल मॉडल हैं।<br />
&nbsp;</p>

परफेक्ट रोल मॉडल बताया
गौतम गंभीर ने राहुल द्रविड़ को एक सफल कप्तान के साथ क्रिकेट के हर फन में उन्हें माहिर बताया। गंभीर ने कहा कि वे खेल में हर भूमिका को निभा सकते थे और ऐसा उन्होंने कर के दिखाया। उनसे बहुत कुछ सीखा जा सकता है। वे एक परफेक्ट रोल मॉडल हैं।

नवीनतम अपडेट प्राप्त करने के लिए DailyNews24 एंड्रॉइड ऐप भी डाउनलोड करें। अगर हमारा पोस्ट आप लोगो को पसंद आया तो हमारे फेसबुक पेज को फॉलो और लाइक जरूर करे।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here